अपाहिज से मोहब्बत का सिला Pyar Ki Ek Kahani – Episode – 2

Pyar Ki Ek Kahani – Heart Touching Love Story in Hindi – Adhuri Mohabbat Love Story – Sad Love Story in Hindi – Love Hindi Story

Pyar Ki Ek Kahani :

तीन दिन गुजर जाते हैं। आफरीन की बुआ आज अपने घर कलकत्ता जाने वाली हैं। उनकी दोपहर 1 बजे की ट्रेन है। जाते जाते वह फिर आफरीन की अम्मी सना को आफरीन और इरफान के रिश्ते के बारे में समझाती हैं, “देखो सना मैं जा रही हूं घर, अगर तुम राज़ी हो तो मैं इरफ़ान के अब्बू से बात करूं। जैसा होगा तुम मुझे फ़ोन कर देना”। इतना कहकर वह चली जाती हैं।

दो दिन बाद आफरीन, “मम्मी मैं अपनी सहेलियों के साथ बाहर घूमने जा रही हूं। शाम तक घर आ जाऊंगी”।

आफरीन की मम्मी सना, “देखो बिटिया अब तुम बाहर घूमना टहलना थोड़ा कम करो और घर का थोड़ा काम-काज भी सीखो। अब हमें तुम्हारी शादी भी करानी है न। दूसरे के घर जाओगी, घर के काम और खाना पकाना नहीं आएगा तो कैसे चलेगा”।

Pyar Ki Ek Kahani

आफरीन थोड़ी सीधी रहती है, इसलिए अपनी मम्मी की बातों का जवाब नहीं देती और चुपचाप अपनी मम्मी की बातों को सुनती रहती है।

आफरीन की मम्मी, “तुम्हारी बुआ तुम्हारी शादी इरफान से कराने के लिए कह रही हैं। वह गांव का लड़का ज़रूर है, एक पैर से थोड़ा भचक कर भी चलता है। लेकिन वह बहुत अच्छे नेचर का, पढ़ा-लिखा और होनहार लड़का है। वह सरकारी नौकरी की तैयारी भी कर रहा है। आज नहीं तो कल ज़रूर उसकी सरकारी नौकरी लग जाएगी। कहो तो मैं भाई से बात करती हूं, तुम्हारे और इरफ़ान की शादी के बारे में”।

अपनी मम्मी की यह बातें सुनकर आफरीन को गुस्सा तो बहुत आता है, लेकिन वह अपना गुस्सा पी जाती है। वह अपना गुस्सा अपनी मम्मी पर नहीं उतारती। लेकिन उनसे साफ़ कह देती है, “अम्मी मैं दिल्ली शहर की पढ़ी-लिखी लड़की हूं। वह एक छोटे से गांव का लड़का, हमारा कोई मेल नहीं है। मैं उससे शादी नहीं कर सकती”। इतना कहकर वह बाहर अपनी सहेलियों के साथ चली जाती है।

Pyar Ki Ek Kahani – Heart Touching Love Story in Hindi – Adhuri Mohabbat Story in Hindi – Very Sad Love Story in Hindi – Emotional Love Story in Hindi – Heart Broken Love Story in Hindi सच्ची प्रेम कहानी इन हिंदी – Mohabbat Story Read Online – Mohabbat Story in Hindi

शाम को आफरीन वापस घर आती है और अपनी मम्मी के साथ किचन के कामों में हाथ बंटवाती है। आफरीन की मम्मी यह देखकर काफी खुश होती हैं कि अब उनकी बेटी धीरे धीरे समझदार हो रही है। उसने उनकी कही बात को नहीं टाला।

सब लोग रात के खाने पर एक साथ बैठते हैं। आफरीन के अब्बू, मम्मी, दोनों बहनें और आफरीन का भाई फैसल।

आफरीन के अब्बू, “आज खाना तो बहुत अच्छा बना है। इसमें से एक अलग ही खुशबू आ रही है। खाना खाने में भी बहुत लजीज़ है। तुमने तो आज कमाल कर दिया सना”।

आफरीन का भाई फैसल भी हां में हां मिलाता है और कहता है, “मम्मी आज सच में आपने बहुत बढ़िया खाना बनाया है। दिल कर रहा है कि खाता ही, जाऊं खाता ही जाऊं”।

इसपर आफरीन की मम्मी खुश होकर कहती हैं, “आज ये खाना अकेले मैनें नहीं, मेरे साथ आफरीन ने भी बनवाया है। भले ही यह किचन में कभी खाना नहीं बनाती थी, लेकिन सिर्फ देख देखकर ही सीख गई और आज किचन में मेरे साथ ऐसे खाना बनवा रही थी, जैसे बरसों से बनाती आ रही हो। सच में मेरी बेटी बहुत ही होनहार है”।

आफरीन की मम्मी आफरीन को बहुत प्यार करती थीं। वह उसके हुनर की कदर करती थीं। इसलिए दिल से उसकी तारीफ़ भी करती थीं।

आफरीन के अब्बू ने भी उसकी तारीफ की, “वाह बेटी आज तो कमाल कर दिया तुमने। बहुत ही लजीज़ खाना बनाया है”। साथ ही आफरीन के भाई और दोनों बहनों ने भी आफरीन के खाने की तारीफ की।

तीन महीने ऐसे ही हंसी खुशी में गुजर जाते हैं। लेकिन उसके बाद कई जगह आफरीन के रिश्ते की बात चलती है, पर उसके सांवले रंग और कम हाईट की वजह से ज़्यादातर लोग उसको रिजेक्ट करके चले जाते हैं। लोगों के इस तरह रिजेक्ट करने से आफरीन दिमागी तौर से परेशान रहने लगती है और कुछ-कुछ डिप्रेशन का शिकार भी होने लगती है। आफरीन की मम्मी को भी अब आफरीन की शादी की चिंता सताने लगती है। फिर उनको आफरीन की बुआ की कही हुई बातें याद आती हैं।

रात में जब सब सोने जाते हैं तो आफरीन की मम्मी आफरीन को पास बुलाकर पूछती हैं, “क्या तुम सच में इरफान से शादी नहीं करना चाहती”?

इसपर आफरीन कहती है, “नहीं मम्मी मैं गांव में शादी नहीं कर सकती। आप ऐसा सोच भी कैसे सकती हैं”।

बेवफा लव स्टोरी इन हिंदी – Adhuri Mohabbat Story in Hindi – रोमांस लव स्टोरी – Very Sad Love Story in Hindi – Real Love Story in Hindi – Love Story in Hindi – True Love Story in Hindi – सच्ची प्रेम कहानी इन हिंदी – Mohabbat Story Read Online – Mohabbat Story in Hindi

आफरीन की अम्मी, “ठीक है जाओ अब तुम सो जाओ”।

आफरीन और उसकी बहनें अपने कमरे में सोने चली जाती हैं। आफरीन की अम्मी आफरीन से बहुत प्यार करती हैं, इसलिए उसे इरफान के साथ शादी करने के लिए फोर्स नहीं करतीं। और वो बात वहीं पर खत्म कर देती हैं।

इस तरह चार महीने गुजर जाते हैं, उसी बीच आफरीन के लिए कई रिश्ते और आते हैं। कुछ को आफरीन नहीं पसंद आती तो कुछ रिश्ते आफरीन और उसकी बहनों को पसंद नहीं आते।

अपाहिज से मोहब्बत का सिला ! Episode – 1

अपाहिज से मोहब्बत का सिला ! Episode – 3

अपाहिज से मोहब्बत का सिला ! Episode – 4

अपाहिज से मोहब्बत का सिला ! Episode – 5

अपाहिज से मोहब्बत का सिला ! Episode – 6 

अपाहिज से मोहब्बत का सिला ! Episode – 7

अपाहिज से मोहब्बत का सिला ! Episode – 8 

अपाहिज से मोहब्बत का सिला ! Episode – 9

अपाहिज से मोहब्बत का सिला ! Episode – 10

अपाहिज से मोहब्बत का सिला ! Episode – 11

Leave a Comment

Translate »
error: Content is protected !!